इंटरनेट क्या है ? और इसका मालिक कौन है What is internet in hindi

आप internet का use तो करते होंगे लेकिन क्या आपको पता है कि internet क्या है और इन्टरनेट कैसे काम करता है l जैसे आप यहाँ बैठे whatsapp या facebook पर massage send करते है और हजारो किलोमीटर दूर बैठे आपके relative आपके massage को कुछ ही second में पड़ लेते हैl  ये सब internet का कमाल है जिसने दुनिया को बहुत छोटा बना दिया है l


इंटरनेट क्या है  What is internet in hindi


Internet Ki Starting Kab Or Kha Se Hui?

1969 में अमेरिका के रक्षा विभाग में (ARPA) ADVANCE RESEARCH PROJECT AGENCY  ( एडवांस रिसर्च प्रोजेक्‍ट एजेंसी ) नाम का Network लांच किया गया, जो युद्ध के समय एक दूसरे को गोपनीय सूचना भेजने के प्रयोग में लाया गया। 1972 में रेटॉमलिसंन ने पहला E-Mail संदेश भेजा और जैसे जैसे E-Mail के जरिये सूचना भेजने के फायदों का पता चलता गया इसका Use भी बढता गया और इस तरह यह नेटवर्क लोकप्रिय हो गया।
1979 में ब्रिटिश डाकघर में पहली बार Internet का प्रयोग प्राघोगिकी के रूप में किया गया। 1984 में इस नेटवर्क से लगभग 1000 से ज्‍यादा कम्‍प्‍यूटर जुड गये थे। धीरे धीरे दूसरे क्षेत्रों में भी सूचनाओं के आदान प्रदान करने के लिये इस नेकवर्क का प्रयोग किया जाने लगा और यह नेटवर्क बडा रूप धारण करने लगा। 1986 में इसे N.S.F. NET का नाम दिया गया और धीरे धीरे सारी दुनिया को Internet ने अपने कब्‍जे में कर लिया,  आज केवल भारत में ही 1 करोड से ज्‍यादा व्‍‍यक्ति इन्‍टरनेट से प्रयोग करते हैं।
इन्टरनेट का मालिक कौन है |who owns internet
  • अब बहुत से लोगो का यह सवाल होता है की इन्टनेट का मालिक कौन होगा ?
  • इन्टरनेट कहाँ से आता है ?
  • डाटा provide कराने वाली कंपनिया (airtel .Idea .vodafone ,den) ये सब कहाँ से इन्टरनेट provide करवाती हैं ?
तो आपके इस सावाल को भी मैं यही खत्म कर देना चाहूँगा 
actually होता क्या है की इन्टरनेट को tier में बांटा गया है जैसे Tier 1,Tier 2,Tier 3,Tier 4 में और यही से से define होता है की इन्टरनेट को provide कराने में किसकी कितनी भागीदारी है ।
example के लिए मैं आपको बता देता हूँ की आप अभी मेरी वेबसाइट पर ये पोस्ट पढ़ रहे हैं जो की go daddy के server से connected है जो कि Scottsdale, Arizona, United States  में स्थित है और यहाँ मैं DEN company का इन्टरनेट use कर रहा हूँ तो कही न कही तो ये physically कनेक्ट होने ही चाहिए तो आखिर ये फंडा है क्या बताता हूँ
  1. Tier 1 ये वो कंपनियां (AT&T,Level 3,verizon NTT,DOCOMO)होती है जिन्होंने समुद्र में अपना बहुत पैसा खर्च कर के डाटा को आदान-प्रदान करने के लिए केबल बिछा रखी हैं और अंतरास्ट्रीय स्तर(international level) पर एक  देश को दूसरे देश के साथ इन्टरनेट से जोड़ के रखा है ।और यह कंपनिया किसी को भी पैसे नहीं देती और न ही किसी से डाटा खरीदती हैं ।
  2.  Tier 2 अब Tier 2 level की कंपनिया (airtel .Idea .vodafone,jio )जो देश भर में इन्टरनेट की सेवा प्रदान कर रही हैं ,होती हैं जो सिर्फ रास्ट्रीय स्तर(national level) तक सीमित होती है और इन कम्पनियों को tier 1 कंपनियों से डाटा खरीदना पड़ता है ।
  3. tier 3  यह वो कंपनीयां होती है जो लोकल एरिया में ही इन्टरनेट plan provide करवाती है जो city level तक internet provide करवाती हैं और इनको Tier 2 वाली कम्पनियों को पैसा देना पड़ता हैं 


इन्टरनेट कैसे काम करता है How does Internet works ?

आज कल हम सारे internet का use करते है लेकिन हमें ये पता नहीं होता है कि internet काम कैसे करता है l इसे समझने के लिए हम इसके तीन हिस्से करते है पहला होता है server जिसमे दुनिया कि सभी जानकारी save रहती है l दूसरा internet service provider ( जैसे airtel reliance idea ) जो हमें server से जानकारी भेजती है l तीसरा हमारे pc या मोबाइल का browser जिससे हम जानकारी search करते है l
जब हम किसी भी जानकारी इमेज या video को हमारे ब्राउज़र में search करते है तो ये request पहले हमारे internet service provider के पास जाती है ये net provider, server पर search करता है l इसके बाद server उस जानकारी को internet provider को भेजता है और internet provider जानकारी को हमें भेजता है l यह प्रक्रिया काफी तेज होती है जिससे हमें कुछ हि second में जानकारी मिल जाती है l


India में Internet का इतिहास (History of Internet in India in Hindi)

भारत में Internet पहली बार 15 August 1995 को इस्तेमाल हुआ था. उस वक्त की सबसे बड़ी Telecom कंपनी VSNL(Videsh Sanchar Nigam Limited) ने ये सेवा दी गई थी.इसके बाद ये भारत में कुछ इस तरह से बदलाव लाया था.
  • बड़े बड़े सहरों में net को पोहंचाया गया.
  • 1996 Redifmail नाम की ईमेल साईट की सुरुवात हुई भारत में.
  • भरता पहला साइबर कैफ़े 1996 में मुंबई में खुला.
  • 1997 Noukri.com जैसी साईट भारत में बनी, आज हर कोई इसे जनता है.
  • 1999 Hindiportal “webdunia” की सुरुवात हुई.
  • 2000 के दशक तक technology act 2000 भारत में लागु हुआ.
  • Yahoo इंडिया और msn इंडिया की भी सुरुवात 2000 के दसक में हुई थी.
  • 2001 Online Train Website irctc.in की सुरुवात हुई थी.

Internet के फायदे (Advantages of Internet in Hindi)

अगर आप Internet के सही से उपयोग करोगे तो आप बोहत कुछ कर सकते हो, इसलिए निचे दिए गए net के फायदे अछे से पढ़ें और अपनी जिंदिगी को Digital बनायें
  • इसको  ज्यादा तोर पर Social Networking, Education, मनोरजन, Online जानकारी देने में ज्यदा मददगार होता है.
  • इसे आपकी  time की बचत तो  होगी और आप चाहो तो बोहत कुछ सिख सकते हो.
  • इसके इस्तेमाल से  हम कोई भी Information को बड़ी आसानी से ढूंड सकते है.जैसे हम Google में करते है.
    किसीको भी बड़ी आसानी से Message, audio, video, Document Internet में हम भेज सकते है जैसे की Whatsapp, Facebook, Twitter में हर कोई करता है.
  • अगर पढाई की बात की जाये आजकल हर कोई ऑनलाइन पढाई कर सकता है और research कर सकता है.
  • और सबसे अच्छा फायदा- Online services जैसे online Shopping, Online Recharge, Movie Ticket Boking, Internet Banking, Online Transaction ये सब Internet की वजह से ही हो पाया है.
  • इसके के जरिये आप किसी के साथ आमने सामने मतलब Video कालिंग कर सकते है.
  • इसकी वजह से ही आजकल E-Commerce साईट बोहत ही तेजी से आगे बढ़ रही हैं.
  • इसमें में आप Information Share कर सकते हैं, E-Mail जैसे सुविधा आपको Internet की वजह से हो पाया है.
  • मनोरंजन के लिए भी आपको इसकी  की सक्त जरुरत है. जिससे आप गाने डाउनलोड कर सकते हो, Video देख सकते हो, दुःख को दूर करने के लिए Online game खेल सकते हो.
  • सबसे बड़ा फायदा यह है की आपको सारे सवालों के जवाब मिल जायंगे जैसे अभी आपको ये भी मिल जाये गा Internet क्या है(What is the Meaning of Internet in hindi).
  • आपको हर  पल की खबर आपको मिलती रहेंगी जब चाहो तब, इसके साथ Science,Technolgy,की भी जानकारी मिलती रहेगी Internet में.
  • आप अपना सारा डाटा स्टोर करके रख सकते हो इसमें  और जब चाहो तब वापस डाउनलोड कर सकते हो.
    ये Government के लिए भी काफी फायदे मंद है, Government अपने scheme Internet के जरिये आसानी से लोगों तक पोहांचा सकी है.

क्या हैं Internet के नुकसान (Disadvantages Of Internet in Hindi)

आपको अगर अपनी जिंदगी को सही तरीके चलाना है इस Digital दुनिया में तो इन बातों को जरुर ध्यान से पढ़ें, और दुसरो को बताएं
  • इसका का नुकसान इसकी लत है, अगर आपको लग गई तो अप इसके पीछे लगे रहो गे और होगा क्या इससे आपका वक्त बर्बाद होगा.
  • इसमें कोई भी कुछ भी लिख के share कर देता है चाहे वो सही हो या गलत, इससे गलत Information लोगों तक पहच ती है|
  •  इसके जरिये आपका सारा Data आपके Computer से कोई भी चुरा सकता है Hackers के जरिये.
  • कभी कभी कोई भी गलत Video(mms) बड़ी तेजी से नेट में फ़ैल जाता है ये भी एक  नुकसान है.
  • Computer Virus Internet से ही आपके Computer तक पोहंच सकता है जिससे आपके सारे डाटा गायब हो सकते हैं और आपके Computer को भी Slow कर देता है
  • बोहत सारे प्रोनोग्र्फी साईट net में होती हैं जिसमे अश्लील तस्वीर और Video रहते है और इनसे बचों के दिमाग पर बोहत ही बुरा असर पड़ता है.
  • इसमें में जो Social साईट जैसे Facebook,Instagram रहती है उनमे कुछ लोग किसी की भी तस्वीर छोड़ देते हैं ये भी Internet का नुकसान हैं
  • Internet पे कुछ ऐसे वेबसाइट होती हैं जिनमे लोग आपको कुछ सवाल पूछ कर सारी जानकारी ले लेते हैं और उसका वो गलत फ़ायदा उठाते है.
  • net के इस्तेमाल से जैसे आपका वक्त बचाता है वैसे ही आपका वक्त भी बर्बाद करता है.
USES OF INTERNET (इंटरनेट का उपयोग)

1. इंटरनेट का प्रयोग उत्पाद और सेवाओं की सूचना उपभोगत्ताओं तक तथा उनकी मागें पूरा करने के लिए भी किया जा रहा है। आज के समय में ऑनलाइन शॉपिंग के द्वारा उचित मूल्य  सामानों को खरीदा जा रहा है।
(ऑनलाइन शॉपिंग कैसे करे जानने के लिए क्लिक करें)

2. इंटरनेट पर मनोरंजन के साधन भी उपलब्ध हैं। या हम कह सकते हैं की इंटरनेट मनोरंजन का भंडार है जिसमे खेल (GAME) कहानिया (STORY) चलचित्र (VIDEO) आदि के जरिये मनोरंजन किया जा सकता सकता सकता है।

3. इंटरनेट के प्रयोग से कही दूर स्थित दो या अधिक व्यक्ति आपस में वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के द्वारा ऐसे बातचीत कर सकते हैं मोनो वे एक दूसरे से सामने ही बैठे हो।

4. इंटरनेट के द्वारा दो व्यक्ति आपस में बातचीत कर सकते हैं।

5. इंटरनेट का प्रयोग कर आपस में सम्पर्क कर के वस्तुओँ और सेवाओं का क्रय विक्रय किया जा सकता है।

6. इंटरनेट के माध्यम से किसी एक कंप्यूटर के फ़ाइल सूचना या डाटा को इंटरनेट से जुड़े दूसरे कंप्यूटर पर भेजा जा सकता है।

7. इंटरनेट के द्वारा ईमेल का प्रयोग करके कोई व्यक्ति इंटरनेट पर दूसरे व्यक्ति को सन्देश भेज सकता है।

ईमेल के बारे में और अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें।

8. आजकल इंटरनेट का माध्यम से ऑनलाइन मोबाइल रिचार्ज , डीटीएच रिचार्ज , टिकट बुकिंग आदि कार्य किया जा रहा है।

मोबाइल और डीटीएच् रिचार्ज कैसे करे इसके बारे में जानने के लिए क्लिक करें।

इंटरनेट के उपयोग का क्षेत्र व्यापक है इसे कुछ उपयोगों तक सिमित करना इंटरनेट के साथ अन्याय समझा जायेगा।

तो उम्मीद करता हूँ आपको जो जानकारी चाहिए थी वो मिली होगी कोई भी क्वेश्चन हो तो comment में जरूर पूछें ।

ALT-TEXT

GAURAV RAJPUT

He is a 18 years self-trained guy, a young part time blogger and Android expert from last five years. He is an Indian blogger and share useful content on this blog regularly, If you like his articles Then you can Share this blog on social media with your friends.
ALT-TEXT

ALT-TEXT

ALT-TEXT

Latest posts by YOUR-NAME (see all)

No comments:

Powered by Blogger.